उत्तरकाशी- जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने यमुनोत्री धाम पैदल यात्रा मार्ग सहित यात्रा व्यवस्थाओं का किया निरीक्षण, यात्रा से संबंधित सभी नोडल अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा निर्दे - PiyushTimes.com | Uttarkashi News

ब्रेकिंग न्यूज़

 



Friday, June 3, 2022

उत्तरकाशी- जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने यमुनोत्री धाम पैदल यात्रा मार्ग सहित यात्रा व्यवस्थाओं का किया निरीक्षण, यात्रा से संबंधित सभी नोडल अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा निर्दे

उत्तरकाशी- जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने यमुनोत्री धाम पैदल यात्रा मार्ग सहित यात्रा व्यवस्थाओं  का किया निरीक्षण, यात्रा से संबंधित सभी नोडल अधिकारियों को दिए जरूरी दिशा निर्देश 




उत्तरकाशी।।जनपद  के विश्व प्रसिद्ध यमुनोत्री धाम में यात्रा व्यवस्थाओं के ठीक संचालन को लेकर  आज   जिलाधिकारी  अभिषेक रूहेला ने  यमुनोत्री धाम के पैदल यात्रा मार्ग के साथ यमुनोत्री धाम में यात्रा व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया l पैदल यात्रा मार्ग का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने पाया कि यात्रा मार्ग  कहीं-2 अव्यवस्थित प है। साथ ही होटलों के द्वारा कूड़ा व्यवस्थित ढंग से नहीं रखा जा रहा है इसको लेकर निरीक्षण के  दौरान जिलाधिकारी ने  यात्रा में  तैनात सभी नोडल अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि  चारधाम यात्रा पर पहुंचने वाले विभिन्न राज्यों के यात्रियों को यात्रा के दौरान यमुनोत्री धाम पैदल मार्ग पर किसी भी तरह की असुविधा न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए।  जिलाधिकारी ने यात्रा में तैनात सम्बन्धित अधिकारियों को पेयजल, साफ - सफाई, चिकित्सा, डण्डी- कण्डी, घोड़ा संचालन आदि यात्रा से जुड़ी सभी आवश्यक व्यवस्थाओं को बेहतर व प्राथमिकता के आधार पर निर्वहन करने के अवश्य दिशा-निर्देश दिये ।




जिलाधिकारी नेपशुचिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि घोड़े - खच्चरों की शत- प्रतिशत स्क्रीनिंग की जाए व उनको चिकित्सकीय सुविधा भी उपलब्ध करायी जाए l तथा जो घोड़े - खच्चर बीमारी से ग्रसित है उन्हें कतई ही यात्रा रूट न भेजे ऐसे पाये जाने वाले  घोड़े - खच्चरों के संचालको पर पशु क्रूरता अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कराना सुनिश्चित करें l उन्होंने जिला पंचायत को यह भी निर्देश दिये कि सभी घोड़े - खच्चरों के सम्बन्धित ठेकेदारों से पंजीकरण एवं बीमा अवश्य रूप से कराना भी सुनिश्चित करें l उन्होंने कहा कि यमुनोत्री धाम में यमुना नदी में किसी भी तरह के वस्त्र यात्रीगण कतई विसर्जित न करें इस हेतु जिला पंचायत, मंदिर समिति, पुलिस निगरानी करते हुये शख्ती से कार्यवाही करना सुनिश्चित करेगें l यात्रा में तैनात पुलिस प्रशासन द्वारा जिला पंचायत को सुझाव दिये गये है कि यात्रा मार्ग के सफाई व्यवस्था को देखते हुये घोड़े खच्चरों  के मल मूत्र हेतु घोड़ो पर बैग लगवाये जायें जिससे यात्रा मार्ग में सफाई व्यवस्था परस्पर  बनी रहे l जिलाधिकारी द्वारा प्राचीन यमुनोत्री वैकल्पिक मार्ग का भी निरीक्षण किया गया वैकल्पिक मार्ग में कुछ स्थान क्षतिग्रस्त पाए जाने पर यात्रा आवागमन में हो रही कठिनाइयों को देखते हुए उन्होंने वन विभाग को अविलंब मार्ग की मरम्मतीकरण करने  निर्देश दिए। 



जिलाधिकारी ने जिला पंचायत को अविलंब यमुनोत्री पैदल मार्ग व धाम में अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत बड़कोट की सहायता से कूड़े एवं अन्य ठोस अपशिष्ट का नियमानुसार निस्तारण करने के निर्देश दिये l जिलाधिकारी ने जल संस्थान के अधिशासी अभियन्ता को निर्देशित करते हुये कहा कि यमुनोत्री पैदल यात्रा मार्ग पर जिन- जिन स्थानों पर पेयजल लिकेज हो रहा है शीघ्र ही पेयजल लीकेज को दुरुस्त करना सुनिश्चित करें । उन्होंने पुलिस महकमें के अधिकारियों को पैदल मार्ग के मुख्य स्थानों पर भीड़, डण्डी- कण्डी, घोड़ा नियंत्रण को व्यवस्थित करने के लिये अतिरिक्त पुलिस बल तैनाती करने के निर्देश दिए l उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि यात्रा को सुगम, सुरक्षित बनाये जाने को लेकर प्रभावी रूप से कार्य करना सुनिश्चित करें। 




जिलाधिकारी सभी सम्बन्धित नोडल अधिकारियों को यात्रा के सफल संचालन को लेकर पेयजल, विद्युत, साफ- सफाई आदि व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के साथ ही विशेष रूप से स्वच्छता बनाये रखने के निर्देश दिये l उन्होंने पर्यावरण मित्रों को पैदल मार्गों पर बेहतर सफाई व्यवस्था बनाये रखने के लिये उन्हें मिष्ठान वितरण किया साथ ही यात्रा मार्ग पर सफाई व्यवस्था के अच्छे कार्य को लेकर  पर्यावरण मित्रों की सहराना की l वहीं नगर पंचायत, स्वास्थ्य, राजस्व आदि विभागों द्वारा यमुनोत्री पैदल मार्ग के साथ ही यात्रा पड़ाव के मुख्य स्थान बड़कोट बाजार व विभिन्न यात्रा रूटों पर वृहद रूप से स्वच्छता अभियान चलाया गया। 


 



इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ,उपजिलाधिकारी बड़कोट शालिनी नेगी, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी  भरत दत्त ढौंडियाल, लोनिवि अधिशासी अभियंता बड़कोट मनोहर धर्मसत्तु सहित अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारी मौजूद थे ।

No comments:

Post a Comment