उत्तरकाशी-भाजपा सेगंगोत्री विधानसभा में टिकट के लिए मचा है घमासान,विधानसभा चुनाव 2022 में लगभग एक दर्जन कार्यकर्ता टिकट की कर रहे है दावेदारी - PiyushTimes.com | Uttarkashi News

ब्रेकिंग न्यूज़

 



Sunday, September 19, 2021

उत्तरकाशी-भाजपा सेगंगोत्री विधानसभा में टिकट के लिए मचा है घमासान,विधानसभा चुनाव 2022 में लगभग एक दर्जन कार्यकर्ता टिकट की कर रहे है दावेदारी

 

उत्तरकाशी-भाजपा से गंगोत्री
  विधानसभा में टिकट के लिए मचा है  घमासान,विधानसभा चुनाव 2022 में लगभग एक दर्जन कार्यकर्ता  टिकट की कर रहे है दावेदारी



उत्तरकाशी।। विधानसभा चुनाव 2022 के लिए अब बहुत कम समय बचा हुआ है ऐसे में सभी पार्टियां विधानसभा चुनाव जीत के लिए पूरी ताकत झोंक रही है इसी के चलते उत्तराखंड की विधानसभा सीट गंगोत्री काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है इस सीट का इतिहास है कि जिस पार्टी का  विधायक गंगोत्री विधानसभा से जीत हासिल करके विधानसभा पहुंचता है राज्य में उसी पार्टी  की सरकार बनती है वर्तमान में गंगोत्री विधानसभा  सीट  गोपाल सिंह रावत के निधन के बाद खाली चल रही है।



 वही गंगोत्री विधानसभा से इस समय भाजपा से टिकट के दावेदारों की काफी लंबी लिस्ट है इसमें भाजपा के कार्यकर्ता टिकट की दावेदारी में अपना दमखम दिखा रहे हैं हम भी किसी से कम नहीं है और टिकट की दावेदारी कर रहे हैं चलो नजर डालते हैं की गंगोत्री विधानसभा से इस समय भाजपा से कौन-2 चेहरे टिकट की दावेदारी कर रहे हैं।



-:सबसे पहले बात करते हैं शांति रावत की शांति रावत स्वर्गीय गोपाल सिंह रावत की धर्मपत्नी है और इन्होंने भी गंगोत्री विधानसभा से चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर की है और टिकट की दावेदारी कर रही है गोपाल सिंह रावत दो बार 2007 और 2017 में गंगोत्री विधानसभा से विधायक रहे।लेकिन बीमारी के कारण अप्रैल 2021 में उनका निधन हो गया। शांति रावत की  पारिवारिक राजनीतिक पृष्ठभूमि है शांति रावत पूर्व में राजकीय बालिका इंटर कॉलेज उत्तरकाशी में शिक्षिका रही  है और व्यक्तिगत कारणों से पहले ही सेवा से सेवानिवृत्त हुई है। वर्तमान में गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रही है



 -:जगमोहन सिंह रावत भाजपा के काफी पुराने कार्यकर्ता  हैं । और जगमोहन रावत ने अपने दमखम पर अपनी  धर्मपत्नी विनीता रावत दो बार ब्लॉक भटवाड़ी का प्रमुख बनाया। जगमोहन रावत पूर्व में भारतीय जनता पार्टी के विभिन्न पदों पर रहे हैं। पूर्व में भाजपा के जिला संयोजक पद पर भी रह चुके हैं। जगमोहन सिंह रावत   टिकट की दावेदारी रहे है।



-: सुरेश चौहान पूर्व में भटवाड़ी के ब्लाक प्रमुख रहे ,जिला पंचायत सदस्य भी रहे और जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चुनाव भी लड़ा लेकिन हार गए तब ये कांग्रेस के कार्यकर्ता थे। सुरेश चौहान ने 2012में गंगोत्री विधानसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ा लेकिन चुनाव हार गए।इसके बाद इन्होंने  भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की और इस समय सुरेश चौहान भी  टिकट की दावेदारी कर रहे हैं।




-: सूरत राम नौटियाल  भाजपा के काफी पुराने नेता है और पार्टी में विभिन्न पदों पर रहे हैं पूर्व में सूरत राम नौटियाल चार धाम विकास परिषद के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं  2017 में भारतीय जनता पार्टी से टिकट न मिलने के कारण  इन्होंने  पार्टी से बागी होकर गंगोत्री विधानसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ा।जिस कारण  पार्टी ने इनको निष्कासित भी किया लेकिन सूरत राम नौटियाल ने हाल ही में  भारतीय जनता पार्टी में वापसी की है।सूरतराम नौटियाल भी  गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे हैं।


-: बुद्धि सिंह पवार पूर्व में भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष रहे, 2002 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर इन्होंने गंगोत्री विधानसभा से चुनाव लड़ा लेकिन तीसरे नंबर पर रहकर चुनाव हार गए।बुद्धि  सिंह पवार  भी टिकट की दावेदारी कर रहे हैं ।



-:किशोर भट्ट वर्तमान में मुख्यमंत्री के जनसंपर्क अधिकारी हैं और भारतीय जनता पार्टी के युवा नेता है। मुख्यमंत्री के काफी करीबी है पूर्व में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं और पार्टी के विभिन्न पदों पर काम कर चुके हैं गंगोत्री विधानसभा से टिकट की   दावेदारी कर रहे हैं।


-:पवन नौटियाल युवा नेता है और पार्टी में विभिन्न पदों पर रहे हैं।  पूर्व में जिला पंचायत सदस्य रह चुके हैं पवन नौटियाल ने भी गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी की हैं।


-: भूपेंद्र सिंह चौहान  पूर्व में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की और भूपेंद्र सिंह चौहान   पूर्व नगरपालिका  अध्यक्ष उत्तरकाशी रहे हैं इन्होंने गंगोत्री विधानसभा से 2017 में निर्दलीय  चुनाव लड़ा लेकिन हार गए ।भूपेंद्र चौहान भी टिकट की दावेदारी कर रहे है।



-:लोकेंद्र सिंह बिष्ट पत्रकार रहे है भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता है। भारतीय जनता पार्टी में लोकेंद्र सिंह बिष्ट विभिन्न पदों पर रह चुके हैं वर्तमान में नमामि गंगे प्रोजेक्ट के  प्रदेश संयोजक है और पूर्व में  गढ़वाल मंडल  विकास निगम के निदेशक भी रहे हैं।लोकेन्द्र सिंह विष्ट भी  गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे है।



 -:चंदन  सिंह पंवार पूर्व  प्रमुख भटवाड़ी रहे । वर्तमान में जिला पंचायत सदस्य हैं और पूर्व में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव भी लड़ चुके हैं लेकिन काफी कम अंतर से चुनाव हार गए थे वर्तमान में चंदन सिंह पंवार  भी गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे हैं।


-: विजय बहादुर सिंह रावत भारतीय जनता पार्टी के काफी पुराने कार्यकर्ता है और पार्टी में विभिन्न पदों पर रहे हैं विजय बहादुर सिंह रावत भी वर्तमान में गंगोत्री विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे हैं।


 

विधानसभा चुनाव 2022 में भारतीय जनता पार्टी गंगोत्री विधानसभा से किस कार्यकर्ता पर अपना विश्वास जताती है यह तो आने वाला समय ही बताएगा लेकिन फिलहाल महत्वकांक्षाएँ सभी कार्यकर्ताओं की रहती है। कि मुझे टिकट मिले शायद इसीलिए गंगोत्री विधानसभा से दावेदारों की लिष्ट काफी  लंबी है।



रिपोर्ट-हेमकान्त नौटियाल

No comments:

Post a Comment